Click here to Print


अल्पसंख्यक शैक्षणिक संस्थाओं को प्रदान किया गया अल्पसंख्यक दर्जा स्थायी है। समय-समय पर इसका नवीनीकृत कराने की कोई आवश्यकता नहीं है।